हिंदी के संस्मरण और संस्मरणकार | hindi sansmaran sahity

0
1694
hindi-sansmaran-sahity
हिंदी के प्रमुख संस्मरण और संस्मरणकार

हिंदी संस्मरण साहित्य 

रेखाचित्र से मिलती-जुलती विधा sansmaran भी है। दोनों में बहुत बारीक़ अंतर होता है, जैसे- जहाँ संस्मरण विवरणात्मक होते हैं वहीं रेखाचित्र रेखात्मक। इसीलिए पद्मसिंह शर्मा लिखते हैं – प्रायः प्रत्येक संस्मरण लेखक रेखाचित्र लेखक भी है और प्रत्येक रेखाचित्र लेखक संस्मरण लेखक भी। महादेवी वर्मा ने लिखा है की, ”संस्मरण लेखक की स्मृति से सम्बन्ध रखता है और स्मृति में वही अंकित रह जाता है जिसने उसके भाव या बोध को कभी गहराई में उद्वेलित किया हो।“ संस्मरण के लिए अंग्रेजी में memoir शब्द प्रयुक्त होता है, जिसका अर्थ- संस्मरण, चरित्र वृत्त, वृत्तान्त, अनुसंधान-लेख आदि होता है। पद्मसिंह शर्मा की रचना पद्मपराग (1929) को हिंदी का प्रथम संस्मरण माना जाता है। हिन्दी के प्रमुख संस्मरण और संस्मरणकार की सूची नीचे दी गई हैं-

हिंदी के प्रमुख संस्मरण और संस्मरणकार-

hindi sansmaran list निम्नलिखित है-

लेखकसंस्मरण
महावीरप्रसाद द्विवेदीअनुमोदन का अन्त & अतीत स्मृति (1905)
सभा की सभ्यता (1907)
वृन्दालाल वर्माकुछ संस्मरण (1921)
पद्मसिंह शर्मापद्मपराग (1929)
प्रबंध मंजरी
इलाचन्द्र जोशीमेरे प्राथमिक जीवन की स्मृतियां (1921)
गोर्की के संस्मरण (1942)
मन्मथनाथ गुप्तक्रान्तियुग के संस्मरण (1937)
श्रीराम शर्माबोलती प्रतिमा (1937)
ज्योतिलाल भार्गवसाहित्यिकों के संस्मरण (हंस के प्रेमचन्द स्मृति अंक 1937, सं. पराड़कर)
राजा राधिकारमण प्रसाद सिंहटूटा तारा (स्मरण : मौलवी साहब, देवी बाबा, 1940)
रामनरेश त्रिपाठीतीस दिन मालवीय जी के साथ (1942
शांतिप्रसाद द्विवेदीपंच चिह्न (1946)
स्मृतियां और कृतियां (1966)
शिवपूजन सहायवे दिन वे लोग (1946)
प्रकाशचन्द्र गुप्तपुरानी स्मृतियां और नए स्केच (1947)
मिट्टी के पुतले (1947)
महादेवी वर्मास्मृति की रेखाएं (1947)
स्मारिका (1971)
श्रीराम शर्मासन् बयालीस के संस्मरण (1948)
वे जीते कैसे हैं (1957)
उपेन्द्रनाथ ‘अश्क’ज़्यादा अपनी, कम पराई (1949)
बनारसीदास चतुर्वेदीहमारे आराध्य
संस्मरण (1952)
जैनेन्द्रगांधी कुछ स्मृतियां (1954)
ये और वे (1954)
रामवृक्ष बेनीपुरीमुझे याद है (1955)
मील के पत्थर (1956)
जंजीरें और दीवारें (1957)
कुछ मैं कुछ वे (1959)
राहुल सांकृत्यायनबचपन की स्मृतियां (1955)
जिनका मैं कृतज्ञ, मेरे असहयोग के साथी (1956)
उपेन्द्रनाथ अश्कमंटो मेरा दुश्मन (1956)
ज्यादा अपनी कम परायी (1959)
सेठ गोविन्ददासस्मृति-कण (1959)
विनोद शंकर व्यासप्रसाद और उनके समकालीन (1960)
अमृता प्रीतमअतीत की परछाइयां (1962)
सम्पूर्णानन्दकुछ स्मृतियां और स्फुट विचार (1962)
विष्णु प्रभाकरजाने-अनजाने (1962)
कुछ शब्द : कुछ रेखाएं (1965)
यादों की तीर्थयात्रा (1981)
मेरे अग्रज : मेरे मीत (1983)
सृजन के सेतु (1990)
हरिवंशराय ‘बच्चन’नए-पुराने झरोखे (1962)
माखनलाल चतुर्वेदीसमय के पांव (1962)
जगदीशचन्द्र माथुरदस तस्वीरें 1963)
सुमित्रानन्दन पन्तसाठ वर्ष : एक रेखांकन 1963)
रायकृष्ण दासजवाहर भाई : उनकी आत्मीयता और सहृदयता (1965)
हरिभाऊ उपाध्यायमेरे हृदय देव (1965)
रामधारीसिंह ‘दिनकर’लोकदेव नेहरू (1965)
संस्मरण और श्रद्धांजलियां (1969)
शिवपूजन सहायवे दिन वे लोग (1965)
सेठ गोविन्ददासचेहरे जाने-पहचाने (1966)
नगेन्द्रचेतना के बिम्ब (1967)
काका साहेब कालेलकरगांधी संस्मरण और विचार (1968)
हरगुलालघेरे के भीतर और बाहर (1968)
अजित कुमार एवं ओंकारनाथ श्रीवास्तवबच्चन निकट से (1968)
जानकीवल्लभ शास्त्रीस्मृति के वातायन (1968)
पद्मिनी मेननचांद (1969)
जगदीशचन्द्र माथुरजिन्होंने जीना जाना (1971)
पदुमलाल पुन्नालाल बख़्शीअन्तिम अध्याय (1972)
अमृतलाल नागरजिनके साथ जिया (1973)
लक्ष्मीशंकर व्यासस्मृति की त्रिवेणिका (1974)
कमलेश्वरमेरा हमदम मेरा दोस्त (1975)
क्षेमचन्द्र सुमनरेखाएं और संस्मरण (1975)
अनीता राकेशचन्द सतरें और (1975)
अंतिम सतरें
अतिरिक्त सतरें
रामनाथ सुमनमैंने स्मृति के दीप जलाए (1976)
भगत सिंहमेरे क्रान्तिकारी साथी (1977)
कृष्णा सोबती हम हशमत- 1 (1977)
हम हशमत- 2 (1998)
शब्दों के आलोक में
सोबती एक सोहबत
हम हशमत- 3 (2012)
हम हशमत- 4
मार्फ़त दिल्ली
शंकर दयाल सिंहकुछ ख़्वाबों में कुछ ख़यालों में (1978)
विष्णुकान्त शास्त्रीसंस्मरण को पाथेय बनने दो (1978)
भगवतीचरण वर्माअतीत के गर्त से (1979)
रांगेय राघवपुनः (1979)
मैथिलीशरण गुप्तश्रद्धांजलि संस्मरण (1979)
भारतभूषण अग्रवाललीक-अलीक (1980)
राजेन्द्र यादवऔरों के बहाने (1981)
वे देवता नहीं हैं (2000)
अमृतलाल नागरजिनके साथ जिया (1981)
प्रतिभा अग्रवालसृजन का सुख-दुख (1981)
रामकुमार वर्मासंस्मरणों के सुमन (1982)
अज्ञेयस्मृति-लेखा (1982)
भीमसेन त्यागीआदमी से आदमी तक (1982)
रामेश्वर शुक्ल ‘अंचल’युगपुरुष (1983)
फणीश्वरनाथ रेणुबन तुलसी की गन्ध (1984)
समय की शिला पर
पद्मा सचदेवदीवान ख़ाना (1984)
मितवा घर (1995)
अमराई (2000)
भगवतीशरण उपाध्यायरस गगन गुफा में (1986)
कमल किशोर गोयनकाहज़ारीप्रसाद द्विवेदी : कुछ संस्मरण (1988)
बिन्दु अग्रवालभारत भूषण अग्रवाल : कुछ यादें, कुछ चर्चाएं (1989)
अमृत रायजिनकी याद हमेशा रहेगी (1992)
अजित कुमारनिकट मन में (1992)
कविवर बच्चन के साथ (2009)
अंधेरे में जुगनू (2010)
गुरुवर बच्चन से दूर
काशीनाथ सिंहयाद हो कि न याद हो (1992)
काशी का अस्सी (2002)
आछे दिन पाछे गए (2004)
घर का जोगी जोगड़ा (2006)
विष्णुकान्त शास्त्रीसुधियां उस चन्दन के वन की (1992)
गिरिराज किशोरसप्तवर्णी (1994)
दूधनाथ सिंहलौट आ ओ धार (1995)
एक शमशेर भी है
रामदरश मिश्रस्मृतियों के छंद (1995)
अपने-अपने रास्ते (2001)
एक दुनिया अपनी (2007)
विष्णुचन्द्र शर्माअभिन्न (1996)
रवीन्द्र कालियासृजन के सहयात्री (1996)
बिन्दु अग्रवालयादें और बातें (1998)
मोहनकिशोर दीवाननेपथ्य नायक लक्ष्मीचन्द्र जैन (2000)
रमानाथ अवस्थीयाद आते हैं (2000)
देवेन्द्र सत्यार्थीयादों के काफिले (2000)
पुरुषोत्तमदास मोदीअंतरंग संस्मरणों में प्रसाद (2001)
विश्वनाथप्रसाद तिवारीएक नाव के यात्री (2001)
नरेश मेहताप्रदक्षिणा अपने समय की (2001)
कृष्णविहारी मिश्रनेह के नाते अनेक (2002)
मनोहर श्याम जोशीलखनऊ मेरा लखनऊ (2002)
रघुवीर सहाय : रचनाओं के बहाने एक संस्मरण (2003)
बातों बातों में
रामकमल रायस्मृतियों का शुक्ल पक्ष (2002)
विद्यानिवास मिश्रचिडि़या रैन बसेरा (2002)
कान्तिकुमार जैनलौट कर आना नहीं होगा (2002)
तुम्हारा परसाई (2004)
जो कहूंगा सच कहूंगा (2006)
अब तो बात फैल गई (2007)
बैकुंठ में बचपन (2010)
विवेकी रायआंगन के वंदनवार (2003)
मेरे सुहृद : मेरे श्रद्धेय (2005)
विष्णुकान्त शास्त्रीपर साथ-साथ चली रही याद (2004)
विश्वनाथ त्रिपाठीनंगा तलाई का गांव (2004)
व्योमकेश दरवेश
गंगा स्नान करने चलोगे (2012)
गुरुजी की खेती-बारी
लक्ष्मीधर मालवीयलाई हयात आए (2004)
केशवचन्द्र वर्मासुमिरन को बहानो (2005)
ताकि सनद रहे
निज नैनहिं देखी
परिमल: स्मृतियाँ और दस्तावेज
मधुरेशये जो आईना है (2006)
आलोचक का आकाश (2012)
मुद्राराक्षसकालातीत (2009)
ममता कालियाकितने शहरों में कितनी बार (2009)
कल परसों बरसों (2011)
अमरकान्तकुछ यादें : कुछ बातें (2009)
निर्मला जैनदिल्ली शहर दर शहर (2009)
चन्द्रकान्तामेरे भोजपत्र (2009)
हाशिए की इबारतें (2009)
वीरेन्द्र सक्सेनाअ से लेकर ह तक, यानी अज्ञेय से लेकर हृदयेश तक (2010)
सुमन केशरी (सं.)जे.एन.यू. में नामवर सिंह (2010)
गोविन्द प्रसादअलाप और अंतरता
नीलाभ अश्कज्ञानरंजन के बहाने
नन्द चतुर्वेदीअतीत राग (2011)
शेखर जोशीस्मृति में रहेंगे वे (2011)
ओम थानवीअपने-अपने अज्ञेय (दो खंड, 2012)
बलराममाफ़ करना यार (2012)
प्रकाश मनुयादों का सफ़र (2012)
नरेन्द्र कोहलीस्मृतियों के गलियारे से (2012)
देवेंद्र मेवाड़ीमेरी यादों का पहाड़ (2013)
मार्कंडेयपत्थर और परछाइयाँ
चक्रधर की साहित्य धारा
मैत्रीयी पुष्पावह सफ़र था की मुकाम था
मोहनलाल भास्करमैं पाकिस्तान में जासूस था
हरिशंकर परसाईजाने पहचाने लोग
हम एक उम्र से वाकिफ हैं
शिवप्रसाद सिंहखलिस मौज में
शिवानीएक थी रामरती
काल के हस्ताक्षर
सुनहु तात यह अकथ कहानी
वातायन
गुलजारपिछले पन्ने
माखनलाल चतुर्वेदीसमय के पाँव
पुष्पा भारतीप्रेम पियाला जिन पिया
कृष्णबिहारी मिश्रनेह के नाते अनेक
हिंदी के संस्मरण और संस्मरणकार
संस्मरण विधा से संबंधित कुछ प्रश्न

1. हिंदी का प्रथम संस्मरण कौन-सा है?

(A) अर्द्ध कथानक

(B) पद्मपराग ✅

(C) हमारे आराध्य

(D) वे दिन वे लोग

2. ‘व्योमकेश दरवेश’ के लेखक कौन हैं?

(A) हजारीप्रसाद द्विवेदी

(B) यशपाल

(C) रुद्र काशिकेय

(D) विश्वनाथ त्रिपाठी ✅

3. इनमें से कौन-सी कृति संस्मरण विधा की नहीं है?

(A) पथ के साथी

(B) हम हशमत

(C) लौट आओ धार

(D) मित्र संवाद ✅

# मित्र संवाद (केदारनाथ अग्रवाल और रामविलास शर्मा के पत्रों का संकलन)

4. इनमें से कौन-सा संस्मरणात्मक ग्रंथ कृष्णा सोबती द्वारा रचित है?

(A) हम हशमत ✅

(B) यादें और बातें

(C) दीवानखाना

(D) स्मृतियों के छंद

5. ‘शेष स्मृतियाँ’ संस्मरण के लेखक हैं:

(A) केदारनाथ सिंह

(B) रघुवीर सहाय ✅

(C) दूधनाथ सिंह

(D) कुँबरचंद्र प्रकाश सिंह

6. प्रकाशन-वर्ष के अनुसार निम्नलिखित संस्मरण-कृतियों का सही अनुक्रम क्या है?

(A) स्मृतिकण, लीक-अलीक, वन तुलसी की गंध, हम-हशमत

(B) हम-हशमत, स्मृतिकण, लीक-अलीक, वन तुलसी की गंध

(C) वन तुलसी की गंध, लीक-अलीक, स्मृतिकण, हम-हशमत

(D) स्मृतिकण, हम-हशमत, लीक-अलीक, वन तुलसी की गंध ✅

7. निम्नलिखित संस्मरण-कृतियों का सही कालानुक्रम कौन-सा है?

(A) हम हशमत, लौट आ ओ धार, काशी का अस्सी, तुम्हारा परसाई ✅

(B) लौट आ ओ धार, काशी का अस्सी, हम हशमत, तुम्हारा परसाई

(C) काशी का अस्सी, लौट आ ओ धार, तुम्हारा परसाई, हम हशमत

(D) लौट आ ओ धार, हम हशमत, काशी का अस्सी, तुम्हारा परसाई

8. निम्नलिखित संस्मरणात्मक कृतियों को उनके लेखकों के साथ सुमेलित कीजिए:

सूची- Iसूची- II
(a) आछे दिन पाछे गए(i) राजेंद्र यादव
(b) नंगातलाई का गाँव(ii) काशीनाथ सिंह
(c) आँगन के वंदनवार(iii) कमलेश्वर
(d) वे देवता नहीं हैं।(iv) विश्वनाथ त्रिपाठी
 (v) विवेकी राय

कोड:

      (a)    (b)    (c)    (d)

(A)    (iii)   (ii)    (iv)   (i)

(B)    (iv)   (iii)   (v)    (ii)

(C)   (ii)    (iv)   (v)    (i) ✅

(D)   (iii)   (v)    (ii)    (iv)

Previous articleहिंदी आत्मकथात्मक साहित्य की सूची | hindi aatmkatha
Next articleहिंदी की प्रमुख जीवनियाँ और जीवनीकार | jiwani sahity

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here