दिल्ली विश्वविद्यालय बी.ए. प्रोग्राम हिंदी एईसीसी (AECC) पाठ्यक्रम सेमेस्टर-1

0
1621
ba-programme-hindi-aecc-syllabus-du
आधुनिक भारतीय भाषा- हिंदी भाषा और संप्रेषण

आधुनिक भारतीय भाषा- हिंदी भाषा और संप्रेषण


हिंदी योग्यता संवर्द्धक पाठ्यक्रम | Language-MIL/Hindi (AECC) BAPAECC01
(BAPAECC01)
Ability-Enhancement Compulsory Course (Only meant for LanguageDepartment/ EVS for Department of Environmental Studies)- (AECC)Credit: 4

Course Objective (2-3)


· भाषिक संक्षेपण  के स्वरूप एवं सिद्धांतों से विद्यार्थी का परिचय

· विभिन्न माध्यमों की जानकारी

· प्रभावी संप्रेषण का महत्व

· रोजगार संबंधी क्षेत्रों के लिए तैयार करना


Course Learning Outcomes


· स्नातक स्तर के छात्रों को भाषाई संप्रेषण की समझ और सम्भाषण से सम्बन्धित विभिन्न पक्षों से अवगत कराया जायेगा।

· भाषा के शुद्ध उच्चारण, सामान्य लेखन, रचनात्मक लेखन, तथा तकनीकी शब्दों से अवगत हो सकेंगे।

· भाषा के समृद्धि के लिए वार्तालाप, भाषण, उसके पल्लवन, पुस्तक समीक्षा, फ़िल्म समीक्षा का भी अध्ययन कर सकेंगे।

इकाई (Unit)-1:  

भाषाई संप्रेषण: स्वरूप और सिद्धांत

1.  संप्रेषण की अवधारणा और महत्व

2.  संप्रेषण की प्रक्रिया

3.  संप्रेषण के विभिन्न मॉडल

4.  आभाषिक संप्रेषण

इकाई (Unit)- 2:  

संप्रेषण के प्रकार

1.  मौखिक और लिखित

2.  वैयक्तिक, सामाजिक और व्यावसायिक

3.  भ्रामक संप्रेषण (miscommunication) और प्रभावी संप्रेषण में अंतर

4.  संप्रेषण में चुनौतियाँ एवं सम्भावनाएं

 इकाई (Unit)- 3:  

संप्रेषण के माध्यम

1.  एकालाप

2.  संवाद

3.  सामूहिक चर्चा

4.  जन संचार माध्यमों पर संप्रेषण: कम्पयूटर-इंटरनेट, ई-मेल, ब्लॉग, वेबसाइट

इकाई (Unit)- 4:  

व्यक्तित्व और प्रभावी भाषिक संप्रेषण

1.   व्यक्तित्व और भाषिक अस्मिता- आयु, लिंग, वर्ग, शिक्षा

2.   प्रभावी संप्रेषण के गुण- शुद्ध उच्चारण, भाषिक संरचना की समझ, भाषा व्यवहार, शब्द सामर्थ्य, शैली-सुर-लहर, अनुतान, बलाघात

3.   प्रभावी व्यक्तित्व के निर्माण में संप्रेषण की भूमिका

References Books

· हिंदी का सामाजिक संदर्भ- रवीन्द्रनाथ श्रीवास्तव

· संप्रेषण-परक व्याकरण: सिद्धांत और स्वरूप- सुरेश कुमार

· प्रयोग और प्रयोग- वी. आर. जगन्नाथ

· भारतीय भाषा चिंतन की पीठिका- विद्यानिवास मिश्र

Additional Resources:

· कुछ पूर्वग्रह- अशोक वाजपेयी

· भाषाई अस्मिता और हिंदी- रवीन्द्रनाथ श्रीवास्तव

· रचना के सरोकार- विश्वनाथ प्रसाद तिवारी

· संप्रेषण: चिंतन और दक्षता- डॉ. मंजू मुकुल 

Teaching Learning Process

· 1 से 3 सप्ताह:  इकाई- 1

·  4 से 6 सप्ताह:  इकाई- 2

· 7 से 9 सप्ताह:  इकाई- 3

· 10 से 12 सप्ताह:  इकाई- 4

· 13 से 14 सप्ताह: सामूहिक चर्चा, विशेष व्याख्यान एवं आंतरिक मूल्यांकन संबंधी गतिविधियाँ 

Assessment Methods

टेस्ट और असाइनमेंट

Previous articleदिल्ली विश्वविद्यालय बी.ए. प्रोग्राम कोर कोर्स (CC) हिंदी पाठ्यक्रम सेमेस्टर- 1
Next articleअलंकार की परिभाषा, भेद और उदाहरण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here